होम व्यापार पैनिक बटन के संबंध में Uber तथा पुलिस से 16 सवाल

पैनिक बटन के संबंध में Uber तथा पुलिस से 16 सवाल

दिसम्‍बर, 2014 में उबेर की एप्‍प से मंगवाई गई कैब के एक ड्राईवर ने अपने यात्री के साथ बलात्‍कार किया और इस खबर ने चारों और सनसनी फैला दी । टैक्‍नोलॉजी कम्‍पनी ने अपने ग्राहकों की सुरक्षा के इत्‍मीनान के लिए जो इंतजाम किए थे - उसके बारे में यह सवाल उठने लगे कि वे कुछ ख़ास नहीं हैं । नई दिल्‍ली तथा मुम्‍बई की नगरपालिकाओं और इनकी राज्‍य अथॉरिटियों द्वारा अपने क्षेत्राधिकार में उबेर के प्रचालन पर प्रतिबंध लगा दिए गए । इसके अलावा, स्‍थानीय अथॉरिटियों द्वारा कैब कम्‍पनियों के लिए नए सुरक्षा इंतजाम किए जाने के भी प्रस्‍ताव पेश किए गए । यह सूचना मिली कि मुम्‍बई अथॉरिटी ने उबेर को आपदा सहायता डैस्‍क स्‍थापित करने के लिए कहा और यह कहा कि वह अपनी गाडि़यों में पैनिक बटन लगवाएं । उबेर ने 5 फरवरी को अपनी वेबसाइट से घोषणा की कि वे अपनी एप्‍प में एक ऐसे पैनिक (एसओएस) बटन की व्‍यवस्‍था कर रहे हैं जिसे दबाने पर स्‍थानीय पुलिस को सहायता सूचना भेजी जा सकेगी । इसके अलावा और कोई विवरण तो उपलब्‍ध नहीं करवाया गया था परन्‍तु उबेर द्वारा यह घोषणा अवश्‍य की गई थी कि वे यह फीचर 11 फरवरी को लांच करेगें । इसी को ध्‍यान में रखते हुए न्‍यूजपाई उबेर और हर उस जगह की पुलिस अथॉरिटियों से कुछ सवालों के जवाब जानना चाहती है - जहां जहां उबेर आपरेट करती है:
1. क्‍या यह पैनिक बटन लॉक स्‍क्रीन पर होगा या फिर सवारी को पहले अपना फोन अनलॉक करके उबेर की यह एप्‍प लॉंच करनी होगी ?
2. क्‍या यह पैनिक बटन कभी भी प्रयोग किया जा सकेगा या फिर इसका प्रयोग केवल उबेर की गाड़ी में सवारी के दौरान ही हो सकेगा ?
3. उबेर की गाड़ी में सवारी करते हुए जब यह बटन दबाया जाएगा तो पुलिस को खबर किस प्रकार पहुंचेगी ? क्‍या यह खबर एसएमएस से भेजी जाएगी अथवा वॉयस कॉल से या फिर इन्‍टरनेट से ?
4. क्‍या उबेर का यह पैनिक बटन तब भी काम करेगा जब उबेर की गाड़ी किसी ऐसे क्षेत्र से गुजर रही होगी जहां मोबाईल डाटा क्‍नेक्टिविटी नहीं है ?
5. यदि सवारी के पास 2जी क्‍नेक्टिविटी है तो भी क्‍या यह पैनिक बटन कारगर होगा ? यदि होगा तो तुलना की दृष्टि से ऐसा होने पर क्‍या फर्क पड़ेगा ?
6. क्‍या पैनिक बटन केवल सवारी के टेलीकॉम आपरेटर के द्वारा ही काम कर सकेगा अथवा यह किसी भी उपलब्‍ध सेवा पर प्रयोग के लिए कारगर होगा ?
7. उबेर की सवारी किस प्रकार निश्चिंत हो सकेगी कि उसका एसएमएस पढ़ लिया गया है ? सवारी को यह खबर कैसे मिलेगी कि उसे सहायता कब मिलने वाली है ?
8. बटन दबा दिए जाने के पश्‍चात यदि किन्‍हीं कारणों से अथॉरिटी तक चेतावनी नहीं पहुंच पाती है तो इसकी जिम्‍मेदारी किसकी होगी : उबेर की, सवारी के टेलीकॉम आपरेटर की, इन्‍टरनेट सेवा देने वाले आपरेटर की या फिर पुलिस की ?
9. उबेर द्वारा की गई घोषणा से यह पता चला है कि वे यह पैनिक बटन भारत के लिए शुरू करने जा रहे हैं । क्‍या इसका अभिप्राय यह है कि भारत में प्रयोग के लिए एप्‍प कुछ अलग प्रकार की होगी अथवा यह फीचर केवल भारत में ही प्रयोग में लाया जा सकेगा ?
10. क्‍या भारत भ्रमण पर आए उबेर के ग्राहक भी उबेर के इस बटन को देख सकेगें ?
11.
12. क्‍या इस पैनिक बटन को शुरू किए जाने से उबेर के भारतीय ग्राहकों के लिए सेवा नियम कुछ अलग प्रकार के होगें ?
13. यदि अलग प्रकार के सेवा नियम होगें तो क्‍या भारत में विदेशी मेहमानों को भी सेवा के इन अलग नियमों को स्‍वीकार करना होगा ?
14. यह एप्‍प अथवा उबेर का सिस्‍टम यह निर्धारण कैसे करेगा कि उसे किस क्षेत्र के पुलिस कंट्रोल रूम से सम्‍पर्क साधना है ? क्‍या यह सवारी के उस समय की नजदीकी पुलिस को सहायता की सूचना भेजेगा जहां यह बटन दबाया गया था ?
15. क्‍या यह पैनिक बटन तब भी काम करेगा जब सवारी उस नगर में होगी जहां उबेर की सेवाएं उपलब्‍ध नहीं है ? क्‍या यह बटन वहां की स्‍थानीय पुलिस को सहायता सूचना भेज सकेगा?
16. क्‍या किसी पैनिक कॉल को यह कहकर रद्द करने की व्‍यवस्‍था की गई है कि ‘’यह गलती से दब गया था’’ अथवा ‘’बच्‍चे ने फोन से खेलते हुए दबा दिया” ?

कृपया सहयोग स्‍वरूप तथा हमारे नए लेख प्राप्‍त करते रहने के लिए न्‍यूजपाई को फेसबुक पर लाईक करें ।

LEAVE A REPLY